भाई जी, खेलना है तो ठीक से खेलिए, ये नहीं कि हारने लगे तो अपना बैट लेकर भाग गए!


Share

फेसबुक और ट्विटर पर फेसबुक इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर उमंग बेदी की ऑफ़िस में सत्यनारायण कथा वाली फ़ोटो वायरल होने के बाद आज सुबह उमंग बेदी ने अपनी सारी ऑफिशियल फ़ोटो डिलीट कर दी है।

कल तक जिस प्रोफ़ाइल पर सैकड़ों तस्वीरें थीं, अब चुनकर सिर्फ़ 27 निजी और पारिवारिक फ़ोटो हैं।

3 जून का मुंबई ऑफ़िस के उद्धाटन में हुई पूजा का पूरा स्टेटस गायब है। आप मैनेजिंग डायरेक्टर की वाल पर नहीं जान पाएँगे कि फेसबुक के मुंबई ऑफ़िस का उद्घाटन हुआ है।

बाबा रामदेव से मिलने वाली तस्वीर भी ग़ायब है।

कल का लिखा मेरा स्टेटस –

Facebook head India

ये जो सज्जन टीका लगाए बैठे हैं वे Umang Bedi हैं. फेसबुक के भारत और दक्षिण एशिया के मैनेजिंग डायरेक्टर. भारत में फेसबुक पर जो भी होता है, उसका श्रेय भी इनका और जो गलत होता है, उसकी जिम्मेदारी भी इनकी.

यह 3 जून, 2017 की तस्वीर है. पूजा चल रही है. पंडित बिजी है. बेदी जी के सिर पर फूल चढ़ाया जा चुका है. भक्ति का माहौल है.

अगर आप सोच रहे हैं कि यह बेदी जी का गृह प्रवेश है या उनके घर पर सत्यनारायण की कथा चल रही है, तो आप गलत हैं.

बेदी जी यह पूजा फेसबुक के मुंबई के नए दफ्तर में करवा रहे हैं. दफ्तर बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स में है.

Read – Manusmriti Rules of Facebook – Bans National Dastak Posts #IAmWithNationalDastak

भारत में मॉडर्निटी का यह अद्भुत रूप है. यह बहुत मिलावटी तरीके से आया है. अमेरिका या यूरोप में आप किसी कॉरपोरेट ऑफिस के उद्धाटन में यह कल्पना नहीं कर सकते हैं कि मैनेजिंग डायरेक्टर पादरी को बुलाकर प्रार्थना सभा करवा रहा है.

पश्चिम में आधुनिकता चर्च से टकराकर बढ़ी है. गैलीलियो से लेकर ब्रूनो और कॉपरनिकस ने इसके लिए चर्च से पंगा मोल लिया और कीमत चुकाई. ब्रूनो को तो चर्च ने जिंदा चौराहे पर जला दिया.

पश्चिम में धर्म व्यक्ति का निजी मामला है.

भारत में आधुनिकता अजीब तरह से आई है. यहां कोट के नीचे जनेऊ का गंदा धागा जिंदा है.

यहां डॉट कॉम का कम्युनिटी मेट्रिमोनी डॉट कॉम बन जाता है.

मिस्टर उमंग बेदी गोल्फ खेलते हैं, सबसे आधुनिक टेक्नोलॉजी पर काम करते हैं,, कहने को नारी अधिकारों के संरक्षक भी हैं, और इसके साथ सत्यनारायण व्रत कथा ऑफिस के अंदर कराने में उन्हें कोई दिक्कत नहीं है.

पढ़े – सोशल मीडिया की मनुस्मृति – नेशनल दस्तक के फेसबुक पेज पर पाबंदी!

इसलिए बेदी जी के व्यवहार को भारतीय आधुनिकता की समस्या के रूप में देखें.

फेसबुक इंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर उमंग बेदी की ऑफ़िस में सत्यनारायण कथा वाली फ़ोटो वायरल होने के बाद आज सुबह उमंग बेदी ने अपनी सारी ऑफिशियल फ़ोटो डिलीट कर दी है।

कल तक जिस प्रोफ़ाइल पर सैकड़ों तस्वीरें थीं, अब चुनकर सिर्फ़ 27 निजी और पारिवारिक फ़ोटो हैं।

3 जून का मुंबई ऑफ़िस के उद्धाटन में हुई पूजा का पूरा स्टेटस गायब है।

आप मैनेजिंग डायरेक्टर की वाल पर नहीं जान पाएँगे कि फेसबुक के मुंबई ऑफ़िस का उद्घाटन हुआ है।

बाबा रामदेव से मिलने वाली तस्वीर भी ग़ायब है।

यह उनकी ऑफिशियल फेसबुक प्रोफ़ाइल है। देखिए कि कल से आज के बीच कितना कुछ बदल गया।

— दिलीप मंडल की कलम से

पढ़े – कौन है जो डिजिटल दलित से डर रहा है और बहुजन वेबसाइट पर रोक लगा रहा है?

Read -  किसने कहा कि आर्य विदेशी हैं? 

More Popular Posts On Velivada

+ There are no comments

Add yours